कोरोना से जान जाने पर परिवार को 10 लाlmlख की सम्मान राशि दी जाएगी

10 लाख की सम्मान राशि

उत्तराखंड सी.एम. त्रिवेन्द्र रावत के निर्देश पर निर्णय लिया गया है कि कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम और बचाव कार्यों में लगे सभी सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों (संविदा, आउटसोर्स आदि) एवं सभी कोरोना वा,m,mm,रियर्स जो कि कोरोना संक्रमण से बचाव एवं राहत कार्यों में तैनात हैं, यदि वे संक्रमित होते हैं तो उनके उपचार का व्यय राज्य सरकार द्वारा किया जाएगा। उनके जीवन की क्षति होने पर उनके आश्रित को मुख्यमंत्री राहत कोष से सीधे 10 लाख रूपए की सम्मान राशि के दी जाएगी।इसके अलावा सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत के निर्देश पर कोरोना वायरस की रोकथाम हेतु चिह्नित किए गए राजकीय मेडिकल कालेजों को सुदृढ़ किए जाने और उनकी क्षमता में वृद्धि किए जाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री राहत कोष से चिकित्सा शिक्षा विभाग को 10 करोङ रूपए अवमुक्त किए गए हैं।

लोकडाउन पर पढाई के यूजीसी ने जारी किये घर बैठे ऑनलाइन स्टडी वेबसाइट

सरकार ने इससे पहले चार लाख रुपये की बीमा योजना का एलान किया था, परन्तु अब उसकी जगह कोरोना योद्धाओं की जान का नुकसान होने पर मुख्यमंत्री राहत कोष से ढाई गुना अधिक धनराशि दी जाएगी।

कोरोना वायरस के इलाज में मरीज किस दवा से ठीक हो रहे है?

10 लाख की सम्मान राशि

कोरोना वायरस के रोकथाम में काम करने वाले बड़े अफसर से लेकर ड्राइवर तक इस योजना का हिस्सा होंगे। संविदा और आउटसोर्सिंग के माध्यम से नियुक्त व्यक्ति की भी अगर जान जाती है तो उनके परिजनों को भी 10 लाख रुपये मुख्यमंत्री राहत कोष से दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री कार्यालय से आपदा प्रबंधन विभाग को जारी आदेश में यह भी कहा गया है कि अगर कोरोना वारियर्स संक्रमित होते हैं तो उनका समूचे इलाज का खर्च राज्य सरकार देगी।

अगर आप अपने स्टेट के कोरोना मरीज के आकड़े देखना चाहते हो तो यहाँ से देखे Click Here

जमीन खोद कर कोयला से कोरोना वायरस संक्रमण ठीक हो जायेगा: अफवाह के खिलाफ एफ0आई0आर0 दर्ज
धन्यबाद |

 83 total views,  2 views today

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *